पता नही हम अच्छा क्यों नही देख पाते. कुछ भी बुरा हुआ उसके पीछे लग जाते हैं. हर जगह कुछ ना कुछ अच्छा होता है लेकिन टीवी हो या अखबार बताई जाती हैं बुरी खबर जायदा. (अच्छी भी बताई जाती हैं, लेकिन कम) इसमे भी हिंदू उग्र संगठन टू बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेते हैं.  NDTV  का नया चैनल आ रहा है २१ जनवरी से रामायण दिखाया जाएगा. ये उन हिंदू संगठनो को नही दिखा. क्या दिखा? दिखा ये की भारत रत्ना के पोल में ऍम अफ हुसैन का नाम क्यों हैं? भाई ये एक निजी चैनल है वो क्या दिखायेंगे वो आप नही उनके समाचार सम्प्दक का निर्णय होगा. हिसार में ईश्वर सिंह को भारत रत्ना देने की मांग की गई है. आप जानते हैं कौन हैं ईश्वर सिंह? 10 में से 1 को पता होगा. मैं बता देता हू, ईश्वर सिंह हरियाणा विधानसभा के स्पीकर हुआ करते थे. किसी भी बात में बात हम हिंदू संगठन इतने उग्र क्यों हो जाते हैं. राम की तो बात करते हैं लेकिन सौम्यता तो छु भी नही पाई है हमलोगों को. क्या सिखायेंगे और सिखने की तो छोड़ ही दीजिये.