भाईचारा बढ़ाइए: लिंक एक्सचेंज करिए

Peace not War

इसका खास उद्देश्य है भाईचारा को बढ़ावा देना। इधर वैसे भी माहौल गर्म है तो मैंने सोचा कि क्यों ना कोई तरकीब सोची जाएं। तो ऐसा करते हैं मैं अपने ब्लागरोल में आप सभी टिप्पणी देने वाले लोगों के ब्लाग को अपने में जोड़ दूंगा। क्या पता शायद इसी से कुछ सुधर जाए।

वैसे यह बात जरूर है कि कई बार ब्लागरोल लिंक होते हुए भी विचार नहीं मिलते इसके लिए कोई आइडिया तो आप भी सोच सकते हैं। उद्देश्य है सभी के बीच शांति फैलाना। मेरा डोमेन आप जोड़े और मैं आपका।

साहित्य में होते रहने चाहिए वाद-विवाद-संवाद: नामवर

नई दिल्ली। सुमित्रानंदन पंत प्रकरण की पृष्ठभूमि में मूर्धन्य समालोचक नामवर सिंह ने कहा है कि हिंदी की छोटी सी दुनिया में वाद-विवाद-संवाद होते रहने चाहिए क्योंकि विचार प्रकट करने की स्वतंत्रता ही लोकतंत्र है। उन्होंने कहा कि वह ‘डिप्लोमेटिक’ बातें नहीं करते हैं और दूसरों के नजरिए के सम्मान के भाव के साथ साफ बात कहते रहे हैं और कहते रहेंगे।

To read more this report click this link Dainik Jagran

|